Header Ads

Breaking News

Press [email protected] nawada DM : रसोई गैस सिलिंडर की आपूर्ति में ज्यादा वसूली पर डीएम गंभीर, होगी जांच, शिकायत का नंबर होगा सार्वजनिक

  



रसोई गैस सिलिंडर की आपूर्ति में ज्यादा वसूली पर डीएम गंभीर, होगी जांच, शिकायत का नंबर होगा सार्वजनिक

नवादा लाइव नेटवर्क।

नवादा जिले में रसोई गैस के वितरकों द्वारा सिलिंडर का निर्धारित मूल्य से अधिक वसूली मामले की जांच होगी। डीएम उदिता सिंह के समक्ष जब इस मामले को लाया गया तो वह गंभीर हुई और कहा कि अपने स्तर से जांच कराएंगे। पब्लिक की शिकायत मिल जाए तो और बेहतर होगा। उन्होंने कहा कि रसोई गैस केंद्र सरकार के नियंत्रण में है, ऐसे में जिला प्रशासन के स्तर से मॉनिटरिंग नहीं हो पाती है। फिर भी गंभीर शिकायत है, हम जांच कराएंगे। 

डीएम शुक्रवार 29जुलाई को अपने कार्यालय कक्ष में मासिक प्रेस कांफ्रेंस में उपस्थित थीं। डीएम को नवादा लाइव की ओर से गैस सिलिंडर की आपूर्ति में निर्धारित दर से 15 से 70 रूपये तक ज्यादा वसूली की ओर ध्यान आकृष्ट कराया गया था। डीएम ने कहा कि शिकायत से संबंधित नंबर को सार्वजनिक किया जायेगा। 

सुखाड़ की स्थिति में किसानों के लिए आगामी योजना के सवाल पर डीएम ने कहा कि 10 अगस्त तक का इंतजार करेंगे। बारिश हो गई तो ठीक अन्यथा वैकल्पिक खेती के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। कहा कि सुखाड़ की स्थिति में क्या कदम उठाया जाना है, इसकी तैयारियां हमलोग कर चुके हैं। 

  इस दौरान डीएम ने जिले के इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के प्रतिनिधियों से जिले के विकास और समस्याओं के संबंध में फिडबैक प्राप्त किया।  
कई पत्रकारों ने कहा कि नगर परिषद क्षेत्र की दोनों मुख्य सड़क को छोड़कर अन्य सभी सड़कों की स्थिति काफी खराब है। 03 नम्बर बस स्टैंड को बाउन्ड्री कर गाड़ियों का प्रवेश द्वार और निकास द्वार बनाने के लिए मांग किया। 


 जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में यूरिया उर्वरक की अभी कोई कमी नहीं है। अभी 03 हजार एमटी यूरिया गोदामों में है। अभी जिले में 03 प्रतिशत ही धान का आच्छादन हुआ है, लेकिन वर्षा होने से धान रोपने  की प्रक्रिया में काफी प्रगति हो रही है। प्रत्येक बुधवार और शुक्रवार को अधिकारियों के द्वारा विभिन्न पंचायतों में चलायी जा रही कल्याणकारी योजनाओं की जाॅच करायी जा रही है, जिसका फिडबैक काफी अच्छा रहा है।

    

जिलाधिकारी ने आगामी मुहर्रम त्योहार को शांतिपूर्ण और भाईचारे की वातावरण में मनाने के लिए फिडबैक प्राप्त किये। पत्रकारों ने कहा कि धमौल थाना आदि क्षेत्र में विशेष निगरानी कराने के लिए पत्रकारों के द्वारा कहा गया।

   जिलाधिकारी ने कहा कि रामनवमी जुलूस के तरह ही मुहर्रम जुलूस को नियंत्रण, समन्वय और निगरानी की जायेगी। 

    

 जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में साक्षरता दर को बृद्धि करने के लिए लागातार प्रयास किया जा रहा है। महिला साक्षरता की स्थिति काफी दयनीय है। जिसके अभाव में महिला जनप्रतिनिधि भी अपनी आवाज को बैठक में ठीक ढ़ंग से रख नहीं पाते हैं। शत प्रतिशत महिलाओं को साक्षर करने के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही है। एक महिला के साक्षर होने से पूरा परिवार साक्षर हो जाता है। साक्षर महिलाएं अपना अधिकार और कर्तव्य को भली भांती समझ पाती है। दरअसल, उनसे स्कूलों की जांच को प्राथमिकता देने से संबंधित सवाल किया गया था, जिसके जवाब में उन्होंने उक्त बातें कही। 

सदर अस्पताल में एसएनसीयू वार्ड के पास का प्रतीक्षालय के व्यवस्थित नहीं रहने और पेय जल की समस्या की ओर भी डीएम का ध्यान आकृष्ट कराया गया। इस महत्व्पूर्ण बैठक में सत्येन्द्र प्रसाद जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

No comments